[In Depth] How To Create Display Campaign in Google AdWords in Hindi [2018]

आज आप Display campaign के बारे मैं इस Blog मैं जाने की Display campaign मैं आप कितने Types की Targeting choice कर सकते हैं और कितने Types के Ad बना सकते हो आई start करते हैं.

Display Ads क्या हैं:-

Display Ads दुसरे लोगो के blog और Website (Ad Sense Approve Websites) पर चलता हैं. Display Ads उन्ही Website पर चलता है जो adsense approve होती हैं. Google Website पर कितने visitors आ रहे हैं और website का structure केसा हैं और बहोत सी बाते होती हैं जो adsense approve कराने के लिए important होती हैं तो आज हम इस topics पर focus नहीं करेंगे की adsense कैसे approve कराते हैं बल्कि आप पड़ोगे की किस तरहा से आप display campaign create कर सकते हैं. आई Start करते हैं

Targeting of Display Campaign

आज हम जानेगे की display campaign मैं कितनी types की targeting होती हैं और उनको कीस तरहा से use करते हैं

Display Ads मैं आप 5 types की targeting set कर सकते हैं

  • ✅ Demographics
  • ✅ Keyword
  • ✅ Placement
  • ✅ Topic
  • ✅ Audiences

1. Demographics

 Demographics के अंदर आप 4 Types से Users को target कर सकते हो. लेकिन हम 3 के बारे मैं आपको बताऊंगा क्योके 4 Targeting (Household income) का हम ज्यादा use नहीं करते हैं.

✅ Gender:-  मान लीजिए की Female category के product आप google display पर promote करना चहाते हो तो आप All Females को target कर सकते हो अब आपका ads केवल females को ही show होगा.

✅ Age: – मान लीजिए की आप PPC Course की training दे रहे हो और आप 18 से 30 years तक के students को target करना चाते हो तो आप यहा से age target कर सकते हो अब आपका ads केवल 18 से 30 Years के सभी लोगो को आपका Ads Show होगा

✅ Parental Status:- इसकी help से आप उन लोगो को target कर सकते हो जो Not a parent या parent हैं मान लो की आप 4 से 7 years के बचो के cloths sale कर रहे हो तो आप इस targeting को select कर सकते हो इसमें आप parent को target कर सकते हो अब आपका ads उन users को show होगा जिनके बचो के age 4 से 7 होगी

2. Keyword Targeting

Keyword targeting मैं आपको आपने business से related keyowrds add करने होते हैं फिर Google उन्ही लोगो को आपका ad शो करेगा या तो कोई user ऐसी Website visit करता हैं जिसपर आपके keywords से related content हो या उन लोगो को show होगा जो आपके business से related interest रखते हो.

Example –  मान लो की आप Real Estate का business promote कर रहे हैं और आपने अपने कुछ keywords ad कई

Ex

  • ✅ Flats in Noida
  • ✅ Property in Delhi
  • ✅ Apartments in Bangalore

नीचे आपको 2 targeting show हो रही हैं Audience और Content यदि आप Audience option लेते हो तो आपका ad उन लोगो को show होगा जो इन keywords को search  करते रहते हैं तो जब भी वो किसी Ad sense Approved website पर जायंगे तो उनको आपका ad शो होगा. और Content मैं आपका ad उन websites, apps और videos पर show होगा जिनपर आपके keywords website Content मैं Apps मैं या videos website मैं चल रहा हो.

3. Placement Targeting

इसमें आप उन websites को ad कर सकते हैं जिनपर आप अपना Ad दिखाना चाते हो

Ex  – मैं चाहता हु की मेरा Ad propertywala.com, proptiger.com पर Show हो तो म placement म इन websites को add कर दूँगा 

4.Topics Targeting-

Topics Targeting मैं Google ने already बहोत सारी category बनाई हुईं हैं आपको आपने business category add करनी हैं

Ex – मैं travel से related users को मेरा Ad Show हो तो म topics म travel category add कर दूँगा

5. Audiences Targeting

Audiences Targetingको remarketing भी बोलते हैं इस topics पर मैं details मैं अलग से blog लिखूंगा अभी इसमें आप ये जान लो की इसमें आप आपने website के existing visitors को target कर सकते हैं

Targeting के बाद अब हमे Ad बनाना हैं इसमें आप 2 Types के Ad बना सकते हैं

  1. Responsive Ad

Responsive Ad मैं google आपकी 2 images को अलग अलग image मैं Show कराएगा वरना आपको 20 images add करनी होती हैं लेकिन responsive Ad मैं आपको केवल 2 Images और 1 logo Ad करना होता हैं

Image Size – 1200*1200 & 1200*628

Logo – 128*128

2. Display Ads

इसमें आपको अपनी 1 Image को 20 अलग अलग sizes मैं बनाना होता हैं. google जिस website पर जो Image size accept करता होगा उसी के according वहा आपका Ad Show हो जायेगा

मैं आशा करता हु की आपको इस blog मैं बहोत कुछ सीखने को मिला होगा अब मेरा आपसे Question हैं आप कौन सी Targeting use करोगे और कौन सा Ad बनाओगे comment मैं मुझे बताई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares